पाचन शक्ति बढ़ाने का चूर्ण ~ harbalist.com ".

पाचन शक्ति बढ़ाने का चूर्ण

आयुर्वेदिक चूर्ण के फायदे

HARBALIST.COM

ayurvedic churn


भारत की संस्कृति का एक अनोखा चलन है । खाना खाने के बाद आयुर्वेदिक चूर्ण खाना का सेवन करते है आयुर्वेदिक चूर्ण पाचन शक्ति बढ़ाने का चूर्ण के फायदे ये है की पाचन शक्ति को ठीक करता है | आपकी भूख बढ़ाता है |  हाजमे के ये चूर्ण ना सिर्फ पाचन शक्ति की प्रक्रिया को संतुलित करते हैं | बल्कि खाने वाले का ज़ायका भी बना देते हैं । हाजमे का चूर्ण अगर अच्छी क्वालिटी का हो तो यह पाचन शक्ति सम्बंधि कोई विकार होने ही नही देता है |आप किसी शादी पार्टी में कई प्रकार का खाना खाने के बाद अपच या बदहजमी हो जाती है | जिसका सटीक उपाय आयुर्वेदिक चूर्ण है | इसके सेवन करने से पेट में गैस नहीं बनती ,बदहजमी,खट्टी डकार,पेट फूलना,एसिडिटी जैसे सभी रोगो को चुटकी में समाप्त कर देता है | इसका सेवन लगातार करने से आपकी पाचन शक्ति बढ़ जाती है | 


आयुर्वेदिक चूर्ण बनाने के लिये सामग्री



:- अनारदाना 10 ग्राम
:- छोटी इलायची के बीज 10 ग्राम
:- दालचीनी 10 ग्राम
:- सौंठ 20 ग्राम
:- पीपल 20 ग्राम
:- कालीमिर्च 20 ग्राम
:- तेजपत्ता 20 ग्राम
:- पीपरामूल (गंठोड़ा) 20 ग्राम
:- नीम्बू का सत्व 20 ग्राम
:- धनिया 40 ग्राम
:- सेंधा नमक 50 ग्राम
:- काला नमक 50 ग्राम
:- मिश्री की डली 300 ग्राम

ये सभी सामान आपको किसी जड़ीबूटी विक्रेता के यहाँ आसानी से मिल जायेगा | 


आयुर्वेदिक चूर्ण बनाने की विधी 



सेंधा नमक, काला नमक,मिश्री और नीम्बू का सत्व को छोड़कर सभी सामान को कड़ी धूप में 3-4 घण्टे सुखालें और फिर सभी सामान को इमामदस्ते में थोडा सा दरदरा सा कूटलें । जब दरदरा हो जाये तो इस सभी सामान को मिक्सी में डालकर बारीक पीस लें । इसके बाद नमक आदि सामान जो धूप में नही सुखाया था उसको अलग से कूटकर बारीक पीस लें और फिर सभी सामानों के इस पाउडर को अच्छे से मिला लें । आपका पाचन शक्ति बढ़ाने का चूर्ण बनकर तैयार है । इसको किसी एयर-टाईट शीशी या डिब्बे में भरकर रख लें।लम्बे समय तक ठीक रखने के लिए कांच के डिब्बे का इस्तेमाल करे। 



आयुर्वेदिक चूर्ण सेवन विधि 


मात्रा;-बच्चों के लिये 2 ग्राम कीमात्रा और बड़ों के लिये 5 ग्राम तककी मात्रा भोजन के बाद निर्धारित है 
 ठन्डे पानी से सेवन करने से आपकी पाचन शक्ति बढ़ जाएगी और पेट के सभी रोग समाप्त हो जायेंगे |  

Previous
Next Post »