femal care tips ~ harbalist.com ".

femal care tips

फीमेल केयर,female care

harbalist.com
फीमेल केयर



फीमेल केयर (female care) एक इंग्लिश शब्द है और इसे हिंदी में महिलाओं की देखभाल  (female care) कहा जाता है | महिलाओं में होने वाली कई गंभीर समस्याओं का निवारण करना ही तो महिलाओं की देखभाल (female care) होता है | सभी लोग जानते हैं कि महिलाओं को महीने में एक बार पीरियड होता है | इस दौरान उन्हें ब्लीडिंग और कमर दर्द,पेट दर्द,सरदर्द जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है |यदि महिला हाउसवाइफ है |तो उसे इन समस्याओं के साथ-साथ अपने घर के सारे काम भी करने पड़ते हैं | इस दौरान महिला काफी चिड़चिड़ी स्वाभाव की हो जाती है | इस समस्या को घर के सभी सदस्य समझे नहीं तो कुछ लोग महिला को ताने मरते है | ऐसा न करे बल्कि महिला की देखभाल करे इन दिनों में महिला को आराम की जरुरत होती हैं | फीमेल केयर (female care) यदि ठीक ढंग से ना हो तो यह एक गंभीर समस्या बन जाती हैं | 


महिलाओं की समस्याएं

harbalist.com
फीमेल केयर



महिलाओं में कई प्रकार की समस्याएं उत्पन्न होती हैं | कुछ उनके शारीरिक बदलाव भी होते हैं | जिन्हें किसी से बताने में उन्हें शर्म आती है | महिलाओं में  कई प्रकार की समस्याएं उत्पन्न होती हैं | कुछ उनके शारीरिक बदलाव भी होते हैं | जिन्हें किसी से बताने में उन्हें शर्म आती है  |लेकिन कभी-कभी इन सभी समस्याओं के बढ़ जाने पर उन्हें  गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ता है  | महिलाओं को इन सभी समस्याओं को छुपाना नहीं चाहिए बल्कि किसी महिला डॉक्टर से इलाज कराना चाहिए | जिससे कि आने वाले समय में आपको किसी गंभीर समस्या का सामना ना करना पड़े  | यदि महिला के शरीर में किसी भी प्रकार की समस्या है  और वही काफी दिनों तक है | इसमें लापरवाही ना बरतें तुरंत डॉक्टर से सलाह लें | महिलाओं की कुछ समस्याएं होती हैं जैसे  ब्रेस्ट कैंसर,गर्भाशय का कैंसर,लिकोरिया,सर दर्द ,कमर दर्द,बालों का झड़ना,पीरियड से जुड़ी समस्याएं,आंखों में दर्द ,चेहरे पर झुर्रियां,डायबिटीज,उच्च रक्तचाप ,हृदय रोग,बांझपन,चेहरे पर मुंहासे,गर्भधारण ना होना,फिलोपियन टयूब बंद होना |  

महिलाओं की समस्या का समाधान



जिन महिलाओं को महीने में एक एक से दो बार पीरियड होता है या जिन महिलाओं को पीरियड समय से नहीं होता है  पीरियड के दौरान ज्यादा दर्द ज्यादा ब्लीडिंग  कमर में ज्यादा दर्द होना  इन सभी समस्याओं से बचने के लिए कुछ औषधि बता रहा हूं जिनका प्रयोग करके  इन समस्याओं से बचा जा सकता है |  

फिटकरी को तवे पर डालकर भूल ले सुबह खाली पेट एक चुटकी फिटकरी का चूर्ण एक गिलास पानी के साथ सेवन करें |इसके सेवन से महीने में दो बार पीरियड नहीं होगा और ना ही ज्यादा ब्लीडिंग होगी  पीरियड भी समय पर होगा |

गिलोय का रस आधा कब सुबह-शाम खाली पेट लेने से पीरियड संबंधी सभी समस्याओं का समाधान होता है | 
शतावरी चूर्ण एक चम्मच सुबह शाम पानी के साथ या दूध के साथ ले सकते है | इसके सेवन से महिलाओ के  गर्भाशय और पीरियड से जुडी सभी समस्या दूर हो जाती है |   
Previous
Next Post »