गुर्दे की पथरी का इलाज kidney stone treatment ~ harbalist.com ".

गुर्दे की पथरी का इलाज kidney stone treatment

     गुर्दे की पथरी का इलाज  kidney stone treatment

 पथरी क्यों हो जाती है?


पथरी होने के कई कारण हैं| कुछ गलत खानपान के कारण और कुछ फैमिली में अगर किसी को पथरी है| तो ऐसा माना जाता है| कि आने वाली पीढ़ी मैं भी पथरी की समस्या आ सकती है| किडनी के फिल्ट्रेशन में खराबी आ जाने के कारण की पथरी बन जाती है| और कुछ सब्जियां भी खाने से पथरी बनती है| पानी कम पीने के कारण हमारी किडनी की सफाई ना हो पाने के कारण जमा गंदगी पथरी रूप ले लेती है |और हम अपने पूरे जीवन काल में सबसे अधिक पानी पीते हैं| पानी मैं बाहर से तो साफ सुथरा दिखता है |लेकिन क्या आपको पता है| पीने के पानी का TDS कितना होना चाहिए 300 से 500 के बीच आपकी सेहत के लिए अच्छा है| यदि इससे ज्यादा है| तो आपको पथरी की समस्या का सामना करना पड़ सकता है| कई बार पथरी का ऑपरेशन हो जाने के बाद भी पथरी हो जाती है| डॉक्टर पथरी का ऑपरेशन कर देता है |लेकिन जिस कारण से पथरी बन रही है |उसका समाधान नहीं हो पाने के कारण समस्या बार-बार उत्पन्न होती है| आज हम आपको कुछ ऐसी समस्या का समाधान बताएंगे जिनका प्रयोग करके हमेशा के लिए छुटकारा पा सकते हैं । किसी भी प्रकार की पथरी हो किडनी या पित्त की थैली या शरीर के किसी भी हिस्से में पथरी हो यह नुस्खा सौ प्रतिशत कारगर है मेरा खुद का आजमाया हुआ है|कुलथी की दाल का प्रयोग से पहले पथरी का एक अल्ट्रासाउंड कराले और कुलथी की दाल का प्रयोग करने के बाद एक अल्ट्रासाउंड कराएं| जिससे आपको पता चल पाएगा इसका प्रयोग करने से आपको कितना लाभ हुआ है|

  1. कुलथी की दाल 1kg जड़ी बूटी विक्रेता से खरीदने के बाद दो चम्मच दाल को एक गिलास पानी में भिगो कर रख दे शाम को और सुबह उठकर खाली पेट दाल को चबा चबा कर खाएं और ऊपर से पानी पीले 40 दिन तक प्रयोग करें| पानी ज्यादा से ज्यादा पिए दही का सेवन ज्यादा करें क्योंकि यह दवा बहुत ही गर्म होती है |जो पथरी को गला कर पेशाब के रास्ते निकाल देती है| इसका सेवन करने के 3 दिन बाद ही|आपको पेशाब में पथरी गल कर निकलती हुई देखने को मिलेगी|
  2. पत्थर चट का पेड़ आपको नर्सरी में मिल जाता है पत्थर चट के एक पत्ते को पीसकर एक चम्मच मिश्री मिलाकर जूस बनाकर 1 महीने तक प्रयोग करें आपको जरूर लाभ होगा|
  3. जीरा 100 ग्राम मिश्री 100 ग्राम दोनों का पाउडर बना लें एक चम्मच ठंडे पानी के साथ दिन में 3 बार प्रयोग करें आपको अवश्य ही लाभ होगा|
  4. मिश्री 100 ग्राम धनिया सूखा 100 ग्राम सोंफ़ 100 ग्राम 3 लीटर पानी में रात को भिगो कर रख दें 24 घंटे बाद का पानी अलग कर दें |बाकी मिश्रण को पीसकर एक कप पानी में एक चम्मच पेस्ट डालकर प्रयोग करें| आपको बहुत लाभ होगा  इस प्रयोग से पेशाब में जलन होना बंद हो जाएगा |
  5. पेय पदार्थ में आपको जौ का पानी, नारियल का पानी, नींबू का रस ,गन्ने का रस, आंवले का रस, गिलोय का रस ,जामुन का रस ,एक गिलास पानी में जैतून का तेल एक चम्मच एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर पीने से लाभ मिलता है|

  1. एक कप गर्म पानी में सेब का सिरका सुबह खाली पेट पीने से पथरी पेशाब के रास्ते से निकल जाती है|

परहेज क्या करें


पालक, टमाटर, खीरा, ककड़ी ,चॉकलेट ,चावल, बिल्कुल ना खाएं| नमक की मात्रा कम कर दे|
यह जानकारी यदि आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्त रिश्तेदार और फैमिली के पास भेजें आप अपने व्हाट्सएप पर फेसबुक सभी जगह पहुंचाएं जिससे और लोग भी लाभ उठा सकें धन्यवाद





Previous
Next Post »

1 comments:

Click here for comments
Ayurvedic up
admin
12:13 PM, April 06, 2020

10 mm ki pathri khatm ho jayegi kulthi ki dal se.

Congrats bro Ayurvedic up you got PERTAMAX...! hehehehe...
Reply
avatar