बांझ औरत को पुत्र पैदा कर दे ~ harbalist.com ".

बांझ औरत को पुत्र पैदा कर दे


बांझ औरत को पुत्र पैदा कर दे



baby


यह चमत्कारी जड़ी बूटी बांझ औरत को पुत्र पैदा कर दे निसंतान रोगियों के लिए वरदान है|निसंतान या बांझपन यह महिलाओं के लिए एक अभिशाप है | जिन महिलाओं के बच्चा नहीं होता उसे बाँझ  के रूप में एक नया नाम दे दिया जाता है |यह समस्या केवल महिला के लिए नहीं है |इस समस्या  का जिम्मेदार पुरुष भी हो सकता है| जो नए शादीशुदा जोड़ें मां बाप बनने का प्रयास करते है |सालों तक प्रयास करते रहते हैं| किसी बाबा के यहां जाते हैं|तो किसी डॉक्टर के यहां जाते हैं| लाखों रुपए की अंग्रेजी दवाइयां खाकर भी उन्हें कोई भी फायदा नहीं होता और थक हार कर वह घर में बैठ जाते हैं |यह सोच लेते हैं| अब हमें कोई संतान नहीं होगी और हमारा वंश आगे नहीं बढ़ पाएगा मायूस हो जाते हैं| टूट जाते हैं अंदर से हीन भावना से ग्रस्त हो जाते हैं|पति पत्नी एक दूसरे को दोष ना देकर अपना अपना इलाज कराएं और फिर प्रयास करें |ऐसे ही बहुत से लोगों के लिए आज हम एक रामबाण प्रयोग लेकर आए हैं |जिनका प्रयोग करके हजारों लोग  संतान सुख प्राप्त कर चुके हैं| आप भी इसका प्रयोग करें जो विधि बताई गई है| उसका पूरा पालन करें|


 पहचान 

 बांझपन की समस्या यदि महिलाओं में होती है  तब इसका मुख्य कारण होता है गर्भाशय के अंदर किसी प्रकार का दोष होना गर्भाशय में यदि सूजन है तो गर्भधारण नहीं होगा गर्भाशय में वायु दोष है तब भी गर्भधारण नहीं होगा,गर्भाशय में गर्मी है तब भी गर्भधारण नहीं हो सकता या फिर  फेलोपियन ट्यूब बंद है या ठीक प्रकार से अंडे नहीं बन पा रहे हैं यदि यह समस्या पुरुष की तरफ से है तो पुरुष के वीर्य में शुक्राणुओं की  संख्या कम हो जाने के कारण महिला के अंडे तक शुक्राणु नहीं पहुंच पाते इस कारण गर्भधारण नहीं हो पाता है

पुत्र प्राप्ति के लिए क्या करना चाहिए 

महिला के शरीर का PH लेवल 8 से 10 तक होना चाहिए | PH बढ़ाने वाले फलों का सेवन करें | हरी सब्जियों का प्रयोग करें जैसे आम ,नारंगी ,नीबू, अन्नानास ,कीवी  पीएच लेवल 7 से ऊपर होना चाहिए pH  ज्यादा होने से शुक्राणु गर्भाशय में ज्यादा देर तक जीवित रहते हैं|पुत्र प्राप्ति की संभावना ज्यादा बढ़ जाती है|

लड़का पैदा करने की टेबलेट 

ऐसी कोई टेबलेट अभी तक नहीं मार्किट में नहीं है| जिसका सेवन करने से लड़का पैदा हो जाये इसलिए आप ये भ्रम अपने अंदर से मिटा दे की लड़का पैदा करने की टेबलेट होती है यदि आप लड़का चाहते है | तो ये उपाय अपना सकते है जो आयुर्वेद में है की पीरियड के आखिरी दिन आपको ज्यादा से ज्याद सम्भोग करना है इससे शुक्राणु महिला के अंडे में गर्भाशय में आने से पहले प्रवेश कर जायेगा | लड़का पैदा होने के ज्यादा योग बन जाते है | 

                                                           पुत्र प्राप्ति के लिए डेट कैसे निकाले

महिला के पीरियड के ख़त्म हो जाने के बाद एक दिन बाद सम्भोग करे जैसे 2 ,4, 6, 8 इस प्रकार से करे | लकिन पुत्र प्राप्ति के लिए  डेट निकलने से कुछ नहीं होता जब तक पुरुष के शुक्राणु X ,Y और महिला के X X जब XX मिलता है तो लड़की पैदा होती है और X ,Y मिलता है तो लड़का पैदा होता है गर्भ धारण करने का समय 21 दिन का होता है 

पचार


  •  पीपल के पेड़ के बारे में आप सभी जानते ही होंगे पीपल के पेड़ की दाढ़ी जो ऊपर से नीचे की तरफ तने में लिपटी रहती है| पीपल की जड़ नहीं लेनी है| पीपल की दाढ़ी 400 ग्राम छोटी-छोटी काटकर छाया में सुखा लें इसका पाउडर  बनाकर इसमें 400 ग्राम मिश्री पाउडर मिला ले  और  पीरियड समाप्त होने वाले दिन से दो दो चम्मच सुबह शाम गाय के दूध के साथ पति पत्नी को सेवन करना है | 11 दिन के बाद संभोग करें आपको संतान प्राप्ति अवश्य होगी| यह दवा 21 दिन तक लेनी है|  बांझ औरत को पुत्र पैदा कर दे यह चमत्कारी जड़ी बूटी है |यदि पहले महीने में आपको लाभ ना मिले तो अगले महीने में फिर प्रयास करें|  

  •  इलायची 50 ग्राम, मिश्री 50 ग्रामदोनों को  मिलाकर पाउडर बना लें| और आधा चम्मच पाउडर सुबह-शाम ठंडे पानी से सेवन करें यह प्रयोग केवल महिला को करना है| महिला  के गर्भाशय के अंदर इससे ठंडक पहुंचेगी और गर्भाशय की गर्मी समाप्त हो जाएगी और गर्भधारण होने में आसानी होगी| यह दोनों प्रयोग रामबाण औषधि है| लाखों लोगों पर आजमाया हुआ प्रयोग हैं| जब तक गर्भधारण ना हो तब तक उसका प्रयोग करते रहें अन्य प्रकार की अंग्रेजी दवाइयों के चक्कर में ना पड़े अंग्रेजी दवाइयों के प्रयोग से ही  गर्भाशय के अंदर गर्मी बढ़ जाती है | जिससे शुक्राणु अंदर जाते ही मर जाते हैं| और गर्भधारण करने में समस्या आती है | 
  •  पुरुष के शुक्राणु की संख्या कम है तो तुलसी के बीज 2 ग्राम 2 ग्राम गुड़ में मिलाकर ठंडे दूध से सेवन करे|
  •  बरगदके पेड़ का दूध एक बतासे में भरकर रोज खाएं|  

  • अश्वगंधा के पाउडर की एक चम्मच सुबह-शाम लें दूध के साथ प्रयोग करे | 


 ज्यादा तेल मसालेदार भोजन और बाजार में मिलने वाले बर्गर चाऊमीन इनका प्रयोग बंद कर दें चाय पीना बंद कर दें| ठंडी चीजें खाएं फलो का जूस ज्यादा पिए पानी भरपूर मात्रा में पिए  | 





Previous
Next Post »